थायराॅइड क्या है-: जाने इस बीमारी से जुड़ी 8 बातें।।

थायराॅॅइड आज के समय में आम बीमारी बन चुकी है और इस बीमारी की शिकार 80% महिलाएं हैं थायराॅइड का सबसे बड़ा कारण तनाव और बदली जीवन शैली है। थायराॅइड की सही जानकारी या सही इलाज ना होना व्यक्ति को मौत के मुंह तक भी ले जा सकता है।

हम आपको थायराॅइड से जुड़ी कुछ जानकारी देना चाहते हैं जो आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हो सकती है।

 

 

1-: थायराॅइड एक तितली के आकार की ग्रंथि है जो गर्दन के निचले हिस्से में पाई जाती है यह ग्रंथि थायरोक्सिन हार्मोन का निर्माण कर उसे रक्त तक पहुंचाती है जिससे शरीर का मेटाबॉलिज्म नियंत्रित रहता है।

2-: थायराॅॅइड टी3 और टी4 दो प्रकार के हार्मोन्स के असंतुलित होने की वजह से होता है।

3-: थायराॅइड दो प्रकार का होता है हायपरथायरायडिज्म- इसमें हार्मोन का जरूरत से ज्यादा स्राव होता जिससे वजन बढ़ने लगता है। हायपोथायरायडिज्म- इसमें हार्मोन का जरूरत से कम स्राव होता है जिससे वजन कम होने लगता है।

4-: कुछ लोगों की थायराॅइड ग्रंथि में कोई रोग नहीं होता लेकिन पिट्यूटरी ग्रंथि के ठीक तरह से काम ना करने की वजह से थायराॅॅइड ग्रंथि में बनने वाले हार्मोन्स प्रभावित होते हैं और थायराॅइड की बीमारी घेर लेती है।

 

 

5-: थायराॅॅइड जेनेटिक भी होता है रक्त संबंधों में किसी  को थायराॅॅइड हो तो यह बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है।

6-: थायराॅॅइड हार्मोन के असंतुलित होने की वजह से बच्चों के शारीरिक व मानसिक विकास में अवरोध उत्पन्न हो जाता है।

7-: थायराॅॅइड के मुख्य लक्षणों में थकान होना, रोग प्रतिरोधक क्षमता का कम होना, जुखाम, त्वचा का रूखापन, अवसाद, वजन बढ़ना या कम होना।

8-: थायराॅॅइड में योग बहुत ही कारगर है योग के विभिन्न आसन थायराॅइड पर नियंत्रण पाने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते हैं मत्स्यासन, हलासन, धनुरासन और प्राणायाम जैसे आसन थायराॅॅइड रोग को ठीक करने में बहुत सहायक होते हैं

(Visited 181 times, 1 visits today)
* Advertisement
*

One Response

  1. honey
    August 30, 2017

Leave a Reply